सासाराम कोविड-19 के कारण कोचिंग संस्थान बंद करने के फैसले को लेकर छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया..

257

सासाराम-कोरोना को लेकर सरकार द्वारा 11 अप्रैल तक शिक्षण संस्थान को बंद करने के लिए कर दिए गए फैसले से नाराज छात्रों ने जमकर बवाल काटा। सरकार से मिले आदेश को लेकर आज सुबह से जिला प्रशासन की टीम सासाराम गौरक्षणी पर कोचिंग बंद करवाने पहुंची इस दौरान छात्रों के द्वारा जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया सासाराम की पोस्ट ऑफिस चौराहे पर आगजनी कर छात्रों ने जमकर बवाल काटा।

किसी तरह से जान बचाकर भागे सासाराम की कार्यपालक अधिकारी अभिषेक आनंद उनके गाड़ी के साथ भी तोड़फोड़ छात्रों के द्वारा किया गया।

डीएम और एसपी मौके पर पहुंच कर मामले को शांत करवाने में लग गए साथ ही आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए।

छात्रों ने सीधा सरकार से सवाल किया यदि कोचिंग संस्थान के चलने पर कोरोना फैल सकता है तो देश के कई हिस्सों में चुनाव कैसे कराए जा रहे हैं पोस्ट ऑफिस चौराहे पर छात्रों ने आगजनी कर विरोध प्रदर्शन किया कई जगह तोड़फोड़ भी किए,

कोचिंग बंद होने से सभी छात्र नाराज थे इस दौरान तोड़फोड़ भी किए गए हैं इसमें तीन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं पुलिस के द्वारा आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए कई छात्र हिरासत में लिए गए छात्रों के द्वारा किए गए पथराव के कारण नगर थाना अध्यक्ष कामाख्या नारायण सिंह समेत बहुत से पुलिसकर्मी घायल हो गए।

सरकार ने सभी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की चेतावनी दी है।