मुखिया का चुनाव कब होगा?जवाब जाने पंचायती राज्य मंत्री सम्राट चौधरी से..

277

Patna- बिहार में अभी पंचायत चुनाव का माहौल है, सभी लोग इसी उलझन में परे हुए है,की आखिर चीफ जस्टिस का फैसला कब आएगा कब चुनाव की तारीखों का ऐलान होगा।

इसी  बीच बड़ी खबर निकल कर आ रही है आजकल मैं कभी भी चुनाव की तारीखों की घोषणा की जा सकती है, चीफ जस्टिस साहब को कोरोना हो जाने के कारण निर्णय नहीं लिया गया अब जल्द चुनाव की तारीख की घोषणा की जा सकती है। राज्य सरकार और चुनाव आयोग पंचायती चुनाव को लेकर पूरी तरीके से तैयार है।

इस बार फिर से ईवीएम से होगा चुनाव?

क्या ईवीएम से ही इस बार चुनाव होगा? इस सवाल का जवाब देते हुए पंचायती राज मंत्री ने कहा कि निर्वाचन आयोग सरकार और आम जनता को ईवीएम से चुनाव कराने में कोई परेशानी नहीं है ईवीएम से निष्पक्ष चुनाव होगा और इसका परिणाम जल्द से जल्द निकलता है,उन्होंने यह भी कहा कि इसके टेक्नोलॉजी पर यीशु है इस पर हमारे टेक्निकल टीम काम कर रही है राज्य निर्वाचन और इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया इसे जल्द से जल्द शटआउट कर लेगी।
मंत्री ने कहा कि सारी व्यवस्था अब डिजिटल होने जा रही है।

यूटिलाइजेशन

सर्टिफिकेट ना जमा करने वाले मुखिया पर होगी कार्रवाई।

सरकार के द्वारा निर्देश दिए गए हैं कि जिन लोगों ने यूटिलाइजेशन सर्टिफिकेट 2020 का जो 31 मार्च तक खर्च किया गया है/सही रिपोर्ट नहीं पाए जाने पर मुखिया प्रमुख और तमाम पदाधिकारियों पर आरोप साबित होने पर कार्रवाई की जाएगी।
नल जल योजना के तहत नल से पानी नहीं गिर रहा है तो ऐसे मुखिया और वार्ड पर भी कार्रवाई की जाएगी साथ ही ऐसी स्थिति में वह नामांकन नहीं कर पाएंगे।
आपको बता दें कि मुख्यमंत्री की योजना के तरह हर घर नल जल का शुद्ध पानी पहुंचाना।

कोरोना काल में चुनाव कैसे कराए जाएंगे यह कितना चुनौति पूर्ण होगा?

मंत्री जी ने कहा किसी भी चुनाव में चाहे वह लोकसभा का चुनाव हो विधानसभा का चुनाव या पंचायत चुनाव घंटे भर का भी बिलंब नहीं करना चाहिए। चुनाव के बाद ही पंचायती राज व्यवस्था के अंतर्गत काम होता है। यह लोकतंत्र का तीसरा स्तम्भ है।
जिस तरह विधानसभा के चुनाव में मांस्क के साथ सेनीटाइजर और और सुरक्षित दूरी बनाकर लोग चुनाव में शामिल हुए थे और चुनाव सफल हुआ था इसी तरह पंचायत चुनाव में भी लोग चुनाव देंगे और इस को सफल बनाएंगे।