बिहार मेडिकल परीक्षा 38 पर्सेंट बच्चे हुए फेल.. जाने कहां रिजल्ट रहा अच्छा

220

Bihar  MBBS की प्रथम व्यावसायिक परीक्षा में राज्य के नौ मेडिकल कॉलेजों के करीब 38 फीसदी छात्र फेल हो गये हैं।

आर्यभट्ट नॉलेज यूनिवर्सिटी ने प्रथम वर्ष की परीक्षा का रिजल्ट जारी किया है. हालांकि, अभी तक टेबुलेशन रजिस्टर नहीं भेजा गया है।

इस परीक्षा में नौ मेडिकल कॉलेजों से 1172 छात्र-छात्राएं बैठे थे.

इनमें 725 परीक्षार्थी सफल हुए, जबकि 447 फेल हो गये हैं. पीएमसीएच में सबसे कम 25 छात्र असफल हैं.

वहीं एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर के 36 छात्र फेल हुए हैं.

एसकेएमसीएच के प्राचार्य प्रो विकास कुमार ने बताया कि 120 छात्रों ने परीक्षा दी थी. इनमें 84 सफल हुए हैं.

कहा कि असफल छात्रों को तीन अवसर दिया जाता है.

कहां कितने छात्र हुए फेल

मेडिकल कॉलेज कुल छात्र फेल

  1. पीएमसीएच 18025

  2. एनएमसीएच पटना 12045

  3. एसकेएमसीएच 12036

  4. डीएमसीएच दरभंगा 12050

  5. जेएलएनएमसीएच भागलपुर 12046

  6. एएनएमएमसीएच गया 12034

  7. वीआइएमएस नालंदा 12251

  8. जीएमसी बेतिया 12056

  9. मधुबनी मेडिकल कॉलेज 150104

आइएमए स्टूडेंट्स नेटवर्क ने की पुनर्मूल्यांकन की मांग 

आइएमए के मेडिकल स्टूडेंट्स नेटवर्क बिहार चैप्टर ने राज्यपाल सह कुलाधिपति काे पत्र भेजकर पुनर्मूल्यांकन का अनुरोध किया है।

रिजल्ट को लेकर मेडिकल छात्रों का कहना है कि कोरोना संक्रमण के कारण उनकी पढ़ाई बाधित हुई।

बदले हुए परीक्षा पैटर्न व कोविड के चलते परीक्षा देने में काफी कठिनाई हुई.

जबकि, सारे विषयों की कॉपियों की जांच करते समय इन बातों का ध्यान नहीं रखा गया.

कहा है कि पुन: कापियों का मूल्यांकन कराकर संशोधित परिणाम जारी किया जाये

Credit-biharteacher org